यूपी कांग्रेस की 75 जिलों में प्रादेशिक भारत जोड़ो पद यात्रा का ऐलान, ये है कार्यक्रम

यूपी कांग्रेस की 75 जिलों में प्रादेशिक भारत जोड़ो पद यात्रा का ऐलान, ये है कार्यक्रम

लखनऊ। यूपी कांग्रेस भारत जोड़ो यात्रा के जरिए प्रदेश में अपनी सियासी जमीन मजबूत करना चाहती है। इसी मकसद को अमली जामा पहनाने के लिए जनवरी 2023 में भारत जोड़ो यात्रा यूपी में प्रवेश करेगी। यह यात्रा करीबन पांच दिनों तक प्रदेश में चलेगी और नोएडा, ग्रेटर नोएडा व बुलंदशहर के जिलों के सीमावर्ती इलाकों से होते हुए हरियाणा में प्रवेश करेगी।

आनलाइन रजिस्ट्रेशन में लोगों का उत्साह

कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विकास श्रीवास्तव का कहना है कि भारत जोड़ो यात्रा के लिए हो रहे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन में लोगों का उत्साह दिख रहा है। इसको देखते हुए यूपी कांग्रेस प्रभारी प्रियंका गांधी और प्रदेश अध्यक्ष बृजलाल खाबरी ने भारत जोड़ो यात्रा के समर्थन में यूपी के सभी 75 जिलों में प्रादेशिक भारत जोड़ो पदयात्रा करने का निर्णय लिया है।

उन्होंने बताया कि कांग्रेस शीर्ष नेतृत्व यूपी में लोगों को आमंत्रण पत्र देकर वैचारिक और मनोवैज्ञानिक तौर से यात्रा के मकसद से जोड़ना चाहता है। आगामी 9 दिसंबर से आम जनमानस के बीच अपने उद्बोधन, प्रेस कॉन्फ्रेंस और पद यात्रा के दौरान आयोजित नुक्कड़ सभाए होंगी।

मीडिया विभाग के चेयरमैन/प्रांतीय अध्यक्ष, पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी 9 दिसंबर गौतमबुद्ध नगर से अभियान की शुरुआत करेंगे।
10 दिसंबर को बुलंदशहर, रात्रि प्रवास हापुड़ करेंगे।
11 दिसंबर हापुड़ में पदयात्रा और रात्रि प्रवास मेरठ में करें।
अगले दिन 12 दिसंबर मेरठ में पदयात्रा के बाद उनका रात्रि प्रवास गाजियाबाद में होगा। 13 दिसंबर गाजियाबाद में पदयात्रा रात्रि प्रवास बागपत में,
14 दिसंबर को बागपत में पदयात्रा के उपरांत शामली में रात्रि प्रवास,
15 को शामली में पदयात्रा रात्रि प्रवास सहारनपुर में होगा।
16 दिसंबर सहारनपुर व रात्रि प्रवास मुजफ्फरनगर,
17 दिसंबर को मुजफ्फरनगर पदयात्रा और रात्रि प्रवास बिजनौर में,
18 दिसंबर को बिजनौर में पदयात्रा,
रात्रि प्रवास अमरोहा में होगा।
19 को अमरोहा में पदयात्रा और रात्रि प्रवास संभल।
20 को संभल में पदयात्रा रात्रि प्रवास मुरादाबाद में होगा।
21 को मुरादाबाद में पदयात्रा रात्रि प्रवास रामपुर में होगा।
22 को रामपुर में पदयात्रा के बाद ज़िला स्तरीय यात्रा का समापन हो जाएगा।

पूर्वांचल की जिम्मेदारी प्रांतीय अध्यक्ष वीरेंद्र चौधरी को सौंपी गई है।
चौधरी 9 दिसंबर को कुशीनगर में पदयात्रा करने के बाद देवरिया में रात्रि प्रवास
10 दिसंबर को देवरिया में पदयात्रा, बलिया में रात्रिप्रवास।
11 दिसंबर बलिया में पदयात्रा और रात्रि प्रवास मऊ।
12 दिसंबर को मऊ में पद यात्रा प्रचार-प्रसार के बाद आजमगढ़ में रात्रि प्रवास।
13 दिसंबर को आजमगढ़ से पदयात्रा ,रात्रि प्रवास अंबेडकरनगर।
14 दिसंबर को अंबेडकरनगर में पदयात्रा रात्रि प्रवास अयोध्या (फैजाबाद)।
15 दिसंबर को पदयात्रा का रात्रि प्रवास बस्ती,
16 दिसंबर बस्ती में पदयात्रा रात्रि प्रवास सिद्धार्थनगर।
17 दिसंबर सिद्धार्थनगर में पदयात्रा कार्यक्रम रात्रि प्रवास महाराजगंज,
18 दिसंबर को महाराजगंज में पदयात्रा रात्रि प्रवास गोरखपुर।
19 को गोरखपुर में पदयात्रा और संत कबीर नगर में रात्रि प्रवास।
20 को संत कबीर नगर में प्रादेशिक पदयात्रा के बाद इस पूरे क्षेत्र में प्रचार प्रसार अभियान जाकर पूरा होगा।

प्रांतीय अध्यक्ष योगेश दीक्षित 9 दिसंबर को पीलीभीत में पदयात्रा और बरेली में रात्रि प्रवास।
10 दिसंबर बरेली में पदयात्रा बदायूं में रात्रि प्रवास,
11 दिसंबर बदायूं में पदयात्रा कासगंज में रात्रि प्रवास,
12 दिसंबर कासगंज में पदयात्रा फर्रूखाबाद में रात्रि प्रवास,
13 दिसंबर फर्रूखाबाद में पदयात्रा एटा में रात्रि प्रवास।
14 को एटा में पदयात्रा मैनपुरी में रात्रि प्रवास,
15 दिसंबर को मैनपुरी में पदयात्रा फिरोजाबाद में रात्रि प्रवास,
16 दिसंबर फिरोजाबाद में पदयात्रा रात्रि प्रवास आगरा में।
17 को आगरा में पदयात्रा रात्रि प्रवास हाथरस,
18 दिसंबर आगरा में पदयात्रा और रात्रि प्रवास अलीगढ़ में,
19 को अलीगढ़ में पदयात्रा, रात्रि प्रवास मथुरा,
20 को मथुरा में भी प्रादेशिक पदयात्रा समापन होगा।

8 वर्षों में जैव-अर्थव्यवस्था 10 अरब डॉलर से बढ़कर 80 अरब डॉलर

सभी राज्यों के सभी जिलों में स्थापित होंगे मूल्य ​निगरानी केंद्र

05 दिसम्बर 2022 सोमवार का राशिफल, Aaj Ka Rashifal 05 December 2022

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर कही ये बड़ी बात, क्या खत्म होगा वोटिंग का अधिकार

सामूहिक हत्याकांड के लिए कुख्यात देशों में पाकिस्तान सबसे ऊपर