Udaipur KanhaiyaLal Murder Case: उठे उदयपुर पुलिस पर सवाल, समय रहते की होती कार्रवाई तो बच सकती थी जान

Udaipur KanhaiyaLal Murder Case: उठे उदयपुर पुलिस पर सवाल, समय रहते की होती कार्रवाई तो बच सकती थी जान

Udaipur KanhaiyaLal Murder Case:राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्हैया लाल की हत्या के बाद अब उदयपुर पुलिस सवालों के घेरे में है। कुछ दिन पहले ही कन्हैया लाल ने अपनी जान का खतरा बताकर पुलिस से शिकायत की थी। पर पुलिस ने कार्रवाई के बजाए कन्हैया लाल को ही सतर्कता बरतने की हिदायत देकर घर भेज दिया था। कन्हैया लाल की मौत के बाद अब यह मामला गर्माने लगा है।

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक कन्हैया लाल ने बीते 15 जून को पत्र लिखकर बाकायदा अपनी जान का खतरा बताते हुए पुलिस से शिकायत की थी। पर समय रहते पुलिस ने उचित कार्रवाई नहीं की। जानकारों का कहना है कि यदि समय से पुलिस चेत गयी होती तो कन्हैया लाल की जान बच सकती थी। इस लापरवाही के आरोपी असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर भंवर लाल को सस्पेंड कर दिया गया है।

बता दें कि कन्हैया लाल ने नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था। घटना वाले दिन कन्हैयालाल की दुकान में दोनों आरोपी कपड़े की माप देने गए थे और उसी बहाने धारदार हथियार से टेलर की हत्या कर दी। उस पूरे घटनाक्रम का आरोपियों ने वीडियो भी बनाया था और उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। बहरहाल घटना के बाद चेती पुलिस ने दोनों आरोपियों को अरेस्ट किया। राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने आरोपियों को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को आउट आफ टर्न प्रमोशन देने का एलान किया है।