World’s Youngest Billionaire: ये 25 साल का लड़का है दुनिया का सबसे युवा सेल्फ मेड अरबपति 

World’s Youngest Billionaire: ये 25 साल का लड़का है दुनिया का सबसे युवा सेल्फ मेड अरबपति 

World’s Youngest Billionaire: हाल ही में फोर्ब्स मैगजीन ने एक लड़के को दुनिया का सबसे युवा सेल्फ-मेड अरबपति घोषित किया तो लोग अचंभित हो गए कि इस लड़के ने ऐसा ​क्या किया भाई? तो आइए जानते हैं। इस सबसे कम उम्र के अरबपति लड़के के बारे में। अमेरिका के इस लड़के का नाम अलेक्जेंडर वांग है। उनकी उम्र सिर्फ 25 साल है। अलेक्जेंडर एशियाई मूल के हैं। उनकी अरबपति बनने की यात्रा भी ज्यादा बड़ी नहीं है।

डिज्नी वर्ल्ड का फ्री टिकट पाने को कांपिटीशन में शामिल होते रहें(World’s Youngest Billionaire)

पढाई लिखाई के समय उनका गणित इंटरेस्ट था। यही वजह रही कि वह छठी कक्षा से ही कोडिंग प्रतियोगिताओं में शामिल होते रहें। उनका मकसद डिज्नी वर्ल्ड का फ्री टिकट हासिल करना था। वह प्रतियोगिता में हारते रहें। वह उनमें भले ही हारते रहें। पर कोडिंग में उनकी दिलचस्पी बढती गयी। सिर्फ 17 साल की ऐज में अलेक्जेंडर क्योरी के लिए कोडिंग का काम करने लगे। उन्होंने मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में भी प्रवेश लिया ताकि वह मशीन लर्निंग का काम सीख सके। एक साल तक उन्होंने पढाई की। उसके बाद छुटिटयों में उन्होंने अपनी खुद की एक कम्पनी शुरू कर दी। उसका नाम स्कैल एआई है। यह कम्पनी उन्होंने लुसी ग्युओ के साथ शुरू की।

कम्पनी शुरू की फिर कालेज नहीं जा सके(World’s Youngest Billionaire)

फिलहाल उन्होंने पढाई छोड़कर कम्पनी तो शुरू की पर वह दोबारा अपने कालेज पढाई करने नहीं जा सके। हालांकि उनके गार्जियन इसके लिए राजी नहीं थे। पर वांग ने उन्हें समझाया कि जब कालेज शुरू होंगे, तब वह ये काम छोड़ देंगे और कालेज ज्वाइन करेंगे। अपने गार्जियन को यह कहकर उन्होंने कन्वींस किया। पर उनकी कम्पनी को फंडिंग मिल गयी और फिर उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा।

भौतिकशास्त्री हैं माता-पिता(World’s Youngest Billionaire)

वांग के माता-पिता भौतिकशास्त्री हैं। वह अमेरिका के नेशनल लैब में जिस प्रोजेक्ट पर काम करते हैं। वह सेना के लिए हथियार बनाने का काम करती है। यह वही लैब है, जिसमें अमेरिका ने परमाणु बन बनाया था। वांग का कहना है कि जिस तरह दस्तावेज सिर्फ एक जगह रखे रहते हैं। ठीक उसी तरह दुनियाभर में जानकारियां बिखरी पड़ी हैं। कम्पनियों के लिए हम उन्हीं डेटा का विश्लेषण करते हैं।

कम्पनी सैटेलाइज इमेज का विश्लेषण करती है (World’s Youngest Billionaire)

वांग की कम्पनी की खासियत यह है कि उनकी कम्पनी सैटेलाइज इमेज का विश्लेषण करती है और उनका विश्लेषण इंसानी क्षमता से ज्यादा स्तर का है। उनकी ही कम्पनी ने रूस और यूक्रेन के हमलों के दौरान अपने विश्लेषण से जानकारी दी कि रूस को कितना नुकसान पहुंचा है। वांग की कम्पनी 300 से ज्यादा कम्पनियों के लिए डेटा विश्लेषण का काम करती है। इनमें अमेरिकी आर्मी, एअरफोर्स व जनरल मोटर्स भी शामिल हैं।

 छह साल पहले शुरू की थी कम्पनी (World’s Youngest Billionaire)

आपको जानकर ताज्जुब होगा कि इस लड़के ने महज छह साल पहले यह कम्पनी शुरू की थी। अब तक 847 करोड़ के कान्ट्रैक्ट साइन कर चुके हैं। इनकी कम्पनी को फंडिंग के तौर पर 2500 करोड़ रूपये मिले थे। इस समय उनकी कम्पनी 56210 करोड़ रूपये की हो चुकी है।

Instagram New Feature: इंस्टाग्राम लाया नया फीचर, अब आप भी अपनी पोस्ट को कर सकेंगे इस तरह पिन

एलन मस्क की टिवटर स्टाफ के साथ पहली मीटिंग, उनके सवालों का देंगे जवाब