Law & Order in Uttar Pradesh: माहौल खराब करने की कोशिश करने वालों से सख्ती से निपटे, सीएम योगी आदित्यनाथ का कानपुर हिंसा के बाद अधिकारियों को निर्देश

Law & Order in Uttar Pradesh: माहौल खराब करने की कोशिश करने वालों से सख्ती से निपटे, सीएम योगी आदित्यनाथ का कानपुर हिंसा के बाद अधिकारियों को निर्देश

लखनऊ। सीएम योगी आदित्यनाथ (UP CM Yogi Aditynath)ने सभी जिलों के अधिकारियों से (Law & Order in Uttar Pradesh) कहा है कि प्रदेश में माहौल खराब करने का प्रयास करने वालों से सख्ती से निपटा जाए। हर जनपद प्रत्येक सूचना को गंभीरता से ले। कानपुर हिंसा के उपद्रवियों को चिन्हित कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। आवश्यकता होने पर वहां पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया जाए।

11 जून से मंत्री समूह फिर जिलों के दौरे पर, करेंगे कानून व्यवस्था की समीक्षा

कानपुर में हुए बवाल (Law & Order in Uttar Pradesh के बाद सीएम योगी ने कहा कि मंत्री स्तरीय समूह आगामी 11 जून से पुनः मण्डलीय व जनपदीय दौरे पर जाएंगे। यह समूह इन बिन्दुओं के साथ कानून-व्यवस्था की भी समीक्षा करेंगे। किसी भी प्रकार की लापरवाही मिलने पर सम्बन्धित के विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी।वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में प्रदेश के सभी जिलों से प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी जुड़े रहे।

अनावश्यक बयानबाजी कर माहौल खराब करने की कोशिश करने वालों पर कड़ी कार्यवाही

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि अनावश्यक बयानबाजी कर माहौल खराब (Law & Order in Uttar Pradesh) करने की कोशिश करने वालों पर कड़ी कार्यवाही की जाए। डायल-112 के वाहन नियमित पेट्रोलिंग करें। पुलिस द्वारा नियमित फुट पेट्रोलिंग भी की जाए। प्रत्येक माह जिलाधिकारी उद्यमियों के साथ बैठक कर उनकी समस्याओं का निराकरण कराएं। बैंकर्स के साथ होने वाली बैठकों में उद्यमियों के प्रतिनिधियों को भी बुलाया जाए और जनप्रतिनिधियों के साथ भी प्रत्येक माह में बैठक की जाए। आम जनमानस के साथ सदव्यवहार किया जाए।

ज्यादा शिकायतें आयीं तो थाने व तहसील की जवाबदेही होगी तय

सीएम योगी ने कहा कि जनसमस्याओं का तेजी से निस्तारण हो, थाना-तहसील संवदेनशील होकर कार्य करें। शिकायतों का निस्तारण गुणवत्तायुक्त तरीके से हो। ज्यादा शिकायतें संज्ञान में आई तो सम्बन्धित थाने व तहसील की जवाबदेही भी तय की जायेगी।

सड़कों पर धार्मिक गतिविधियां न हों आयोजित

उन्होंने कहा कि सड़क पर धार्मिक गतिविधियां न आयोजित हों। बीते दिनों अभियान चलाकर धार्मिक स्थलों से या तो माइक उतारे गए हैं या उनकी आवाज कम की गई है। दोबारा धार्मिक स्थलों के माइक की आवाज तेज न हो।

10 जून तक अतिक्रमण मुक्त हों सड़कें

मुख्यमंत्री ने सभी जिलों के पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को निर्देशित किया कि आगामी 10 जून तक सभी सड़कें अतिक्रमण मुक्त होनी चाहिए। अवैध टेम्पो स्टैण्ड हटा दिए जाएं। बसों को भी उनके निर्धारित स्थान पर ही पार्क कराया जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि किसी भी प्रतिष्ठान के स्वामी सड़क पर आगे बढ़कर दुकान न लगाएं। स्ट्रीट वेण्डरों का व्यवस्थित पुनर्वास किया जाए। इन वेण्डरों को पीएम स्वनिधि योजना का लाभ भी दिलाया जाए।

गले मिलने या आलिंगन करने के क्या हैं फायदे? जानिए