Sawan Mein Pooja Karne Ki Vidhi : भगवान शिव के साथ इन पांच देवताओं की पूजा करने से दूर होंगी आर्थिक समस्याएं

Sawan Mein Pooja Karne Ki Vidhi : भगवान शिव के साथ इन पांच देवताओं की पूजा करने से दूर होंगी आर्थिक समस्याएं

Sawan Mein Pooja Karne Ki Vidhi : श्रावण और कार्तिक मास शिव को बहुत पसंद हैं। इन महीनों में कुछ खास दिन होते हैं..उन दिनों उनकी विशेष पूजा की जाती है.. लोगों का मानना है कि उन पूजाओं से सभी परेशानियां दूर हो जाएंगी..पंडित कहते हैं कि यह इन महीनों में न केवल शिव बल्कि पांच अन्य देवताओं की भी पूजा करना अच्छा होता है। आइए जानते हैं इनकी पूजा कैसे करें।

मंगलवार को आंजनेय स्वामी का दिन (Sawan Mein Pooja Karne Ki Vidhi)

मंगलवार को आंजनेय स्वामी का दिन कहा जाता है। इसलिए श्रावण मास के मंगलवार के दिन हनुमान जी की पूजा करना महत्वपूर्ण माना जाता है। क्योंकि हनुमान रुद्रावतारी हैं। यानी श्री हनुमान भगवान शिव के रुद्र अवतारों में से एक हैं। हनुमान जी की पूजा करने से सभी प्रकार के कष्ट दूर हो जाते हैं।

कृष्ण पंचमी पर भगवान नाग की विशेष पूजा (Sawan Mein Pooja Karne Ki Vidhi)

श्रावण मास की कृष्ण पंचमी पर भगवान नाग की विशेष पूजा की जाती है। नाग पंचमी व्रत शुक्ल पंचमी को मनाया जाता है। इस दिन अष्टनगर पूजा के साथ-साथ मनसा देवी, अस्तिका मुनि, माता कद्रू और माता सुरसा पूजा का भी विशेष महत्व है।

अष्टमी तक भगवान कृष्ण की पूजा करने की परंपरा

श्रावण मास की कृष्ण पक्ष अष्टमी से भाद्रपद कृष्ण पक्ष की अष्टमी तक भगवान कृष्ण की पूजा करने की परंपरा है। ऐसा माना जाता है कि भदौ कृष्ण अष्टमी के दिन जन्माष्टमी का त्योहार मनाया जाता है। यदि आप इस पूरे महीने भगवान कृष्ण की पूजा करते हैं, तो आपको मोक्ष की प्राप्ति होगी। भगवान कृष्ण के साथ-साथ माता यशोदा, भगवान विष्णु और देवी लक्ष्मी की भी पूजा करनी चाहिए।

षष्ठी तिथि को भी कार्तिकेय पूजा का विशेष महत्व (Sawan Mein Pooja Karne Ki Vidhi)

श्रावण मास की षष्ठी तिथि को भी कार्तिकेय पूजा का विशेष महत्व है। यह तिथि भगवान शिव और माता पार्वती के पुत्र कार्तिकेय की है। ऐसा माना जाता है कि इस महीने में इनकी पूजा करने से अधिक पुण्य, लंबी आयु और प्रसिद्धि मिलती है। साथ ही चतुर्थी के दिन गणेश जी की पूजा करनी चाहिए।

सोमवार का व्रत उसी तरह जैसे मंगलवार को मंगला गौरी व्रत

सोमवार का व्रत उसी तरह किया जाता है जैसे मंगलवार को मंगला गौरी व्रत किया जाता है। मंगला गौरी यानी महागौरी पार्वती का अवतार हैं। श्रावण मास में मां गौरी की पूजा करने से सुखी वैवाहिक जीवन होगा। पंडितों का कहना है कि अगर हम इन देवताओं की पूजा करते हैं, तो आर्थिक समस्याएं दूर हो जाएंगी और देवी लक्ष्मी हमारे घर में विराजमान होंगी।

Aaj Ka Rashifal: आज गजकेसरी योग किस राशि का भाग्य करेगा उदय ?

Aaj Ka Rashifal देखने के क्या हैं फायदे ? मीडियावार्ता पर पाएं सटीक जानकारी

सनातन धर्म क्या है? What is the difference between Hindu and Sanatan Dharm

Old Mythological Hindi Movies: ये हैं हिंदू पौराणिक कथाओं पर आधारित बेस्ट फिल्में

Ranveer Singh के न्यूड फोटोशूट पर बोली ये एक्ट्रेस-मैंने अक्सर उसे बिना कपड़ों के देखा है