PFI Ban Reactions: सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे मीम

PFI Ban Reactions: सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे मीम

PFI Ban Reactions: मोदी सरकार ने इस्लामिक संगठन पापुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) और इससे जुड़े 8 संगठनों पर पांच साल के बेन का एलान किया और देश भर में उससे जुड़े लोगों की धरपकड़ शुरू हो गई। PFI पर बैन की मांग लंबे समय से की जा रही थी, पर सरकार ने पहले जांच की, संदिग्धों को पकड़ा और पूछताछ के बाद पर्याप्त सबूत जुटाए। उसके बाद बैन लगाया। बहरहाल, सोशल मीडिया पर पीएफआई बैन की खबर पर रिएक्शन आने लगें। तरह तरह के मीम वायरल होने लगें।

सिमी के साथ जैसा हुआ, वैसा न हो

विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) से जुड़े डा सुरेंद्र जैन ने सरकार के इस फैसला का स्वागत करते हुए कहा कि अब राज्य सरकारों को राजनीति से ऊपर उठकर कार्रवाई करनी चाहिए। सिमी के साथ जैसा हुआ, वैसा न हो। खुद सोनिया गांधी संसद में सिमी का पक्ष ले रही थीं तो अदालतों में उनके नेता वकील बनकर केस लड़ रहे थे। खासतौर पर केरल और बंगाल में ऐसी मानसिकता वालों पर सख्त कार्रवाई होना चाहिए।

#PFIban  पर महाराष्ट्र के सीएम एकनाथ शिंदे बोले

‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाने वाली PFI को देश में इस तरह के नारे लगाने का कोई हक नहीं है. गृह मंत्रालय उस पर कार्रवाई करेगा। केंद्र सरकार ने सही फैसला लिया है। यह देशभक्तों का देश है।

#PFIban  पर कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मई बोले

यह इस देश के लोगों द्वारा, सीपीआई, सीपीएम और कांग्रेस जैसे विपक्ष सहित सभी राजनीतिक दलों द्वारा लंबे समय से मांग की गई थी। पीएफआई देश विरोधी गतिविधियों, हिंसा में शामिल था। देश के बाहर उनकी कमान थी।

 

(ये सोशल मीडिया रिएक्शन्स हैं। www.mediavarta.com का इनसे कोई संबंध नहीं है।)