Early Pregnancy Symptoms in Hindi: 3-4 दिन बाद दिखने लगते हैं ये लक्षण

Early Pregnancy Symptoms in Hindi: 3-4 दिन बाद दिखने लगते हैं ये लक्षण

Early Pregnancy Symptoms in Hindi:

आपके जेहन में सवाल उठता होगा कि आखिर कितने दिन में प्रेग्नेंसी के लक्षण (early signs of pregnancy) दिखने लगते हैं। क्या पीरिएड मिस होने से पहले ही यह जाना जा सकता है कि आप गर्भवती हैं या नहीं। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है प्रेग्नेंसी के लक्षण कंसीव करने के तीन से चार दिन बाद ही दिखने लगते हैं (pregnancy calculator week by week)। यदि इन पर ध्यान दिया जाए तो आप प्रेग्नेंसी के बारे में जान सकते हैं और फिर समय से जांच कराकर इसकी पुष्टि भी कर सकते हैं।

तीन से चार दिन बाद दिखने लगते हैं ये लक्षण (Early Pregnancy Symptoms in Hindi) अंडा फटने के बाद गर्भावस्था के लक्षण

मौजूदा भागमभाग माहौल और बिगड़ी लाइफस्टाइल की वजह से महिलाओं को कंसीव करने में समस्या हो रही है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि यदि ऐसे में कोई महिला कंसीव (early pregnancy symptoms) करती है तो कपल को इससे कोई छेड़छाड़ करने की जरूरत नहीं है। (first week pregnancy symptoms) कुछ लोग जल्द ही बच्चा चाहते हैं, उनका पीरिएड मिस होने के समय तक सब्र रखना मुश्किल होता है। कपल के कंसीव करने के तीन से चार दिन बाद ही ऐसे लक्षण दिखने लगते है। जिससे गर्भावस्था का पता लगाया जा सकता है। अब आपको ज्यादा दिन इंतजार करने की जरूरत नहीं है। यहां ऐसे ही लक्षणों (Sign of Pregnancy in hindi)के बारे में बताया जा रहा है, जो आपके लिए मददगार साबित होगा।

शुरू हो जाता है वैजाइना डिस्चार्ज (Early Pregnancy Symptoms in Hindi)

प्रेग्नेंसी के तुरंत बाद ही वैजाइनल डिस्चार्ज होना शुरू हो जाता है। ऐसा इसलिए भी होता है, क्योंकि प्रेग्नेंसी के तुरंत बाद शरीर में तेजी से हार्मोनल बदलाव होने लगते हैं। वैजाइना की कोशिकाएं तेजी से बढने लगती है। उसकी वाल मोटी होने लगती है। ऐसे में थोड़ा डिस्चार्ज भी हो सकता है। पर यदि उस डिस्चार्ज में बदबू हो या वजाइन में जलन या दर्द लगे तो डाक्टर से सलाह लेना जरूरी होता है, क्योंकि तब इंफेक्शन के चांसेज होते हैं।

रक्तस्राव होना (Early Pregnancy Symptoms in Hindi)

जब भ्रूण आपकी बच्चेदानी के सेल्स से चिपकता है तो वहां ब्लड वेसल्स में दिक्क्त होती है। वह फट जाते हैं। इसकी वजह से आपको हल्का रक्तस्राव सा दिख सकता है। पर यह रक्तस्राव पीरिएड का नहीं होता है, क्योंकि पीरिएड का रक्तस्राव एक फ्लो में निकलता है। ऐसे में आप कन्फ्यूज मत हों। पेट या कमर में दर्द भी महसूस हो सकता है। यूट्रस में क्रैम्पिंग जैसा फीलिंग आ सकती है। पर ऐसा हर किसी के साथ नहीं होता। पर कंसीव करने के तीन से चार दिन बार तमाम महिलाओं में ऐसे लक्षण पाए जाते हैं।

ब्रेस्ट में शुरू हो जाता है बदलाव (Early Pregnancy Symptoms in Hindi)

इतना ही नहीं ब्रेस्ट में भी परिवर्तन शुरू हो जाता है। आप कंसीव करने के तीन से चार दिन बाद ही अपने ब्रेस्ट में परिवर्तन महसूस कर सकती हैं। इसमें भारीपन, झनझनाहट के साथ दर्द की फीलिंग भी सकती है। या फिर ब्रेस्ट को छूने पर दर्द भी महसूस हो सकता है।

थकान लगना (Early Pregnancy Symptoms in Hindi)

चूंकि कंसीव करने के तुंरत बाद से ही शरीर में तेजी से हार्मोनल बदलाव होने लगते हैं। इसकी वजह से महिलाओं को थकान महसूस होती है। ऐसी स्थिति में महिला यदि ज्यादा देर खड़ी रहे तो उसे अनकम्फर्टेबल महसूस होता है। उसका आराम करने का मन करता है। ऐसी स्थिति में महिलाओं को आराम करने की सलाह दी जाती है।

उल्टी होना या जी मिचलाना (Pregnancy In Hindi)

कंसीव करने के कुछ दिन बाद ही महिलाओं में मार्निंग सिकनेस देखा गया है। कुछ महिलाओं को यह दोपहर में परेशान करता है। कई को यह लक्षण शाम के समय दिखते हैं। पर ऐसे पीरिएड में जी मिचलाना या उल्टी आना आम है। किचेन में काम करते वक्त बदबू महसूस हो सकती है।

पीरियड मिस होने के 7 दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करे, पीरिएड मिस होने से पहले के समय को नहीं कर सकते नजरअंदाज

pregnancy symptoms before missed period : वैसे कुछ मामलों में पीरिएड मिस होने से पहले ही उबकाई, जी मिचलाना व उल्टी की समस्या महसूस होती है। पर कुछ मामलों में ऐसा नहीं भी होता है। हालांकि जब पीरिएड आने का समय होता है, उस समय ऐसा महसूस हो सकता है। चूंकि उस समय भी भ्रूण के विकास की प्रक्रिया चल रही होती है। जिसमें कई हफ्ते लगते हैं। फिर भी आप पीरिएड मिस होने से पहले के समय को नजरअंदाज नहीं कर सकते हैं। आपको अभी से सतर्क हो जाना और अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखना है।

पीरियड मिस होने के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करे

सवाल उठता है कि पीरिएड मिस होने के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करे, पीरियड मिस होने के 7 दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करे. पीरियड मिस होने पर कमर दर्द. पीरियड मिस होने के 10 दिन बाद भी नेगेटिव आए तो क्या समझे, तो डाक्टर से परामर्श लें। पीरियड आने के बाद भी क्या कोई प्रेग्नेंट हो सकते है? यह भी सवाल आते हैं, इसके लिए आपको लगातार अपने पीरिएड के डेटस पर नजर रखनी होगी और आर्टिकल में बताए गए किसी भी लक्षण से मेल खाते लक्षण दिखें तो डाक्टर से परामर्श लें।

पीरिएड महिलाओं को गर्भावस्था के लिए करता है तैयार

pregnancy due date calculator: यह प्राकृतिक है कि महिलाओं को हर माह पीरिएड आता है। यह प्राकृतिक तौर पर महिलाओं के शरीर को संभावित गर्भावस्था के लिए प्रीपेयर करता है। भले ही आपका गर्भ माह के दूसरे पखवारे के समय से है। पर बच्चे के बर्थ की संभावित गणना हमेशा पीरिएड शुरू होने के पहले दिन से की जाती है। अक्सर बातचीत के दौरान महिलाएं इस तथ्य को लेकर असमंजस जाहिर करती हैं। पर यह सत्य है कि बच्चे के जन्म की तारीख की संभावित गणना में उस तारीख का उपयोग किया जाता है। जिस तारीख को महिला को पीरिएड आया था। यह एक सामान्य प्रक्रिया है। प्रेगनेंसी के कितने दिन बाद पीरियड आता है, यह सवाल भी आते हैं। दरअसल प्रेग्नेंसी महिला को प्रेग्नेंट होने के लिए तैयार करता है।

इस तरह आपको योजना बनाने में मिलेगी मदद

pregnancy week calculator: ऐसे समय में महिलाओं को खुद को गर्भधारण करने के लिए तैयार करना चाहिए। उन्हें अपने पीरिएड आने की तिथि कहीं लिख लेनी चाहिए। ताकि उन्हें अपने पीरिएड आने के समय का सही पता लग सके। इससे आपको गर्भधारण के समय योजना बनाने में मदद मिलती है।

धीमी चलती है यह प्रक्रिया

दरअसल गर्भधारण के समय के बारे में आप निश्चित नहीं हो सकते है। यह आपको बिना बताएं अचानक होता है। और आपको इसके बारे में पता भी नहीं चलता। जब शरीर में शुरूआती लक्षण दिखने लगते हैं तो आपको पता चलना शुरू होता है कि आप र्गभवती हैं। चूंकि यह प्रक्रिया इतने धीमे चलती है कि यह महसूस होने में महिलाओं को कई हफ्ते लग सकते हैं।

सबसे मजबूत शुक्राणु ही जा पाता है आगे

महिलाओं के शरीर के ओवरी यानि अंडाशय से निकलने के बाद ओवा यानि अंडाणु कम अवधि तक जीवित रह सकता है। उसकी यात्रा यहीं से शुरू हो जाती है। उसे ओवरी से फैलोपियन टयूब तक पहुंचने में 24 घंटे तक का टाइम लगता है। यहीं पर शुक्राणु का ओवा के साथ फर्टिलाइजेशन होता है। वैसे अंडाणु, शुक्राणु की तुलना में कम समय तक जीवित रहता है। सबसे मजबूत शुक्राण ही आगे जा पाता है। गतिशील शुक्राणु सर्विक्स या गर्भाशय ग्रीवा से निकलकर गर्भाशय तक पहुंचता है और फिर फैलोपियन टयूब तक जा पाता है।

इन बातों का रखें ध्यान, जब हो एक हफ्ते का गर्भ (Pregnancy In Hindi)

-pregnancy week calculator: पीरिएड शुरू होने के समय को रिकार्ड में रखें। इसका भी ध्यान रखें कि कब तक आपको रक्तस्राव होता है। यह आपके लिए यह पता लगाने में सहायक होगा कि कब आपके गर्भधारण करने की संभावना है।

-यदि आप वाकई में गर्भधारण करना चाहती हैं तो पहले आप गर्भनिरोधक चीजों को इस्तेमाल बंद कर दें।

-यदि आप गर्भनिरोधक गोलियां ले रही हैं तो आपके चक्रों को सामान्य स्थिति में आने में थोड़ा समय लग सकता है।

-डिलीवरी के पहले ही विटामिंस जरूर लें। यदि आप कोई भी दवा का प्रयोग करने जा रहें तो अपने डाक्टर से इस बारे में सलाह जरूर लें।

-जंक फूड से परहेज करें। व्यायाम करें। हरी सब्जियों का प्रयोग करें। समय पर मेडिकल चेकअप कराएं।

frequently asked questions (FAQ)

1-early pregnancy symptoms in hindi: गर्भावस्था के लक्षण कितनी जल्दी शुरू होते हैं? पीरियड आने से पहले कैसे पता करें कि प्रेग्नेंट है?

-गर्भावस्था के बहुत शुरुआती लक्षण (जैसे गंध और स्तनों के प्रति संवेदनशीलता) मासिक धर्म आने से पहले ही महसूस हो सकते हैं या गर्भधारण के कुछ दिन बाद ही समझ में आने लगते हैं। गर्भावस्था के अन्य शुरुआती लक्षण (जैसे स्पॉटिंग ovulation period) शुक्राणु के अंडे से मिलने के लगभग एक सप्ताह बाद महसूस होना शुरू हो जाते हैं।

2-प्रारंभिक गर्भावस्था के सामान्य लक्षण (symptoms of pregnancy in first month) मुझे कैसे पता चलेगा कि मैं प्रेग्नेंट हूं?

-ज्यादातर महिलाओं के लिए पीरिएड का मिस होना ही गर्भावस्था का पहला संकेत होता है।
-जल्दी पेशाब आना
-सूजे हुए या कोमल स्तन
-थकान
-मतली, उल्टी के साथ या बिना
-लाइट स्पॉटिंग और ऐंठन
-सूजन
-मूड में उतार चढाव

3-गर्भावस्था के 4 लक्षण क्या हैं? 1 महीने गर्भावस्था के लक्षण, कंसीव होने के लक्षण

-पीरिएड मिस होना अक्सर गर्भावस्था के पहले लक्षणों में से एक है। मुंह का स्वाद बदल जाना। स्तनों में दर्द। जी मिचलाना-इसे मॉर्निंग सिकनेस के रूप में भी जाना जाता है, हालाँकि आप इसे किसी भी समय अनुभव कर सकते हैं।

4-क्या आप 2 दिनों के बाद गर्भवती महसूस कर सकती हैं? (ovulation calculator)

-गर्भावस्था के शुरुआती लक्षण आमतौर पर हर महिला में अलग-अलग होते हैं। कुछ महिलाओं को गर्भधारण के एक या दो सप्ताह बाद पहले लक्षणों का अनुभव हो सकता है, जबकि अन्य को महीनों तक कुछ भी महसूस नहीं होता है।

5-क्या आप 5 दिनों के बाद गर्भवती महसूस कर सकती हैं? (pregnancy calculator) 

-कुछ महिलाओं को लक्षण पांच दिनों के बाद या जल्दी दिखाई दे सकते हैं, हालांकि वह भी निश्चित रूप से यह नहीं जान पाएंगी कि वह प्रेग्नेंट हैं। प्रारंभिक लक्षणों और लक्षणों में रक्तस्राव या शरीर में ऐंठन होता है, जो शुक्राणु द्वारा अंडे को निषेचित करने के 5-6 दिनों के बाद हो सकता है। अन्य शुरुआती लक्षणों में स्तन में कोमलता और मनोदशा में बदलाव शामिल हैं।

6-एक सप्ताह में गर्भावस्था के लक्षण (pregnancy symptoms) 1 सप्ताह गर्भावस्था के लक्षण

-उल्टी के साथ या बिना मतली।
-कोमलता, सूजन, या झुनझुनी की भावना, या ध्यान देने योग्य नीली नसों सहित स्तन परिवर्तन।
-जल्दी पेशाब आना।
-सरदर्द।
-बेसल शरीर का तापमान बढ़ा।
-पेट या गैस में सूजन।
-रक्तस्राव के बिना हल्के पैल्विक ऐंठन या बेचैनी।
-थकान या थकान।

7-मुझे कैसे पता चलेगा कि मैं बिना टेस्ट के गर्भवती हूँ? (pregnancy month calculator)

-पीरिएड का मिस होना गर्भावस्था के सबसे आम शुरुआती लक्षणों मे हैं।यदि आप अपने बच्चे के जन्म के वर्षों में हैं और एक अपेक्षित मासिक धर्म की शुरुआत के बिना एक सप्ताह या उससे अधिक समय बीत चुका है, तो आप गर्भवती हो सकती हैं। हालांकि, यदि आपका मासिक धर्म अनियमित है तो यह लक्षण भ्रामक हो सकता है।

8-क्या प्रेग्नेंट होने पर लड़की का पीरियड मिस हो जाएगा? (pregnancy symptoms before missed period)

-एक लड़की के गर्भवती होने के बाद, उसे अब उसकी अवधि नहीं आती है। लेकिन जो लड़कियां गर्भवती होती हैं उन्हें अन्य रक्तस्राव हो सकता है जो मासिक धर्म की तरह लग सकता है। उदाहरण के लिए, जब एक निषेचित अंडा गर्भाशय में प्रत्यारोपित होता है तो थोड़ी मात्रा में रक्तस्राव हो सकता है।

9- 3 दिनों में गर्भावस्था के लक्षण क्या हैं? (3 days pregnant symptoms)

-थकान अक्सर गर्भावस्था के शुरुआती लक्षणों में से एक है।
-सूजन। ओव्यूलेशन आमतौर पर मासिक धर्म चक्र के लगभग आधे रास्ते में होता है।
-पीठ दर्द। बहुत से लोग अपनी अवधि के दौरान पीठ दर्द होने की रिपोर्ट करते हैं; दूसरों को ठीक पहले पीठ दर्द होता है।
-जी मिचलाना।

10-क्या आप 4 दिनों के बाद गर्भवती महसूस कर सकती हैं? (pregnancy symptoms week 1)

-कुछ महिलाएं 4 दिनों में हल्के लक्षणों का अनुभव करना शुरू कर सकती हैं, लेकिन इसकी अधिक संभावना है कि आपको कुछ सप्ताह इंतजार करना होगा। गर्भावस्था के शुरुआती लक्षण जिन्हें आप नोटिस करना शुरू कर सकते हैं उनमें शामिल हैं: ऐंठन। गर्भावस्था के शुरुआती दिनों में पेट में ऐंठन शामिल हो सकती है।

11-कौन सा भोजन गर्भपात का कारण बन सकता है?(pregnancy trimesters)

-खाद्य पदार्थ जो गर्भपात का कारण बन सकते हैं।
-अनानास। अनानास में ब्रोमेलैन होता है, जो गर्भाशय ग्रीवा को नरम करता है और असामयिक श्रम संकुचन शुरू कर सकता है, जिसके परिणामस्वरूप गर्भपात हो सकता है।
-तिल के बीज।
-कच्चे अंडे।
-बिना पाश्चुरीकृत दूध।
-पशु जिगर।
-अंकुरित आलू।
-पपीता।

12-प्रारंभिक गर्भावस्था में पेट कैसा लगता है? 2 सप्ताह गर्भावस्था के लक्षण

-प्रारंभिक गर्भावस्था (पहली तिमाही) पेट के लक्षणों में मतली / मॉर्निंग सिकनेस, ऐंठन, कब्ज, नाराज़गी, सूजन और गैस शामिल हैं। गर्भावस्था तब शुरू होती है जब एक निषेचित अंडा गर्भाशय की दीवार से जुड़ जाता है, और कुछ लोगों में गर्भावस्था के लक्षण आरोपण के एक सप्ताह बाद ही शुरू हो सकते हैं।

13-जब आप गर्भवती होती हैं तो डिस्चार्ज कैसा दिखता है? (early pregnancy discharge)

-यह कैसा दिखता है? गर्भावस्था के दौरान स्वस्थ योनि स्राव को ल्यूकोरिया कहा जाता है। यह रोज़मर्रा के डिस्चार्ज के समान है, जिसका अर्थ है कि यह पतला, स्पष्ट या दूधिया सफेद होता है, और केवल हल्की गंध आती है या बिल्कुल नहीं। हालांकि, गर्भावस्था के कारण डिस्चार्ज की मात्रा बढ़ सकती है।

14-प्रेगनेंसी में फिंगर टेस्ट क्या है? (pregnancy test at home)

-अपने गर्भाशय ग्रीवा की जांच कैसे करें। घर पर आपके गर्भाशय ग्रीवा की स्थिति और मजबूती की जांच करना संभव है। आप गर्भाशय ग्रीवा को महसूस करने के लिए अपनी योनि में एक उंगली डालकर ऐसा कर सकते हैं। आपकी मध्यमा उंगली उपयोग करने के लिए सबसे प्रभावी हो सकती है क्योंकि यह सबसे लंबी है, लेकिन जो भी उंगली आपके लिए सबसे आसान है उसका उपयोग करें।

15-पीरियड्स कब तक लेट हो सकते हैं? (pregnancy symptoms in hindi)

-“औसतन, ये चक्र 24 से 38 दिन लंबे होते हैं।” इसका मतलब है कि एक महीने में 28 दिन का चक्र और अगले महीने 26 दिन का चक्र शायद चिंता की कोई बात नहीं है। आपकी अवधि देर से मानी जा सकती है यदि: आपकी पिछली अवधि के 38 दिनों से अधिक हो गई है।

16-बिना जाने आप कब तक प्रेग्नेंट हो सकती हैं? पीरियड आने के बाद भी क्या कोई प्रेग्नेंट हो सकते है? (pregnancy symptoms in hindi)

-कुछ अध्ययनों ने अनुमान लगाया है कि 400 या 500 में से एक महिला 20 सप्ताह या लगभग 5 महीने की होती है, इससे पहले कि उन्हें पता चलता है कि वे गर्भवती हैं।

17-आप कैसे बता सकते हैं कि आपके पीरिएड आने के समय में देर हो चुका है? (gestational age calculator)

-यदि मासिक धर्म चक्र 21 से 35 दिनों के बीच कहीं भी रहता है तो उसे सामान्य माना जाता है। आपका चक्र अलग-अलग हो सकता है, लेकिन आपकी अवधि उस तारीख से पांच दिनों के बाद देर से मानी जाती है जब आपने इसके आने की उम्मीद की थी। यदि आपके पिछले मासिक धर्म के पहले दिन से छह सप्ताह या उससे अधिक समय हो गया है, तो एक अवधि चूक गई मानी जाती है।

18-सोने की कौन सी स्थिति गर्भपात का कारण बन सकती है?

-चिकित्सा अध्ययनों की 2019 की समीक्षा से पता चलता है कि आपकी पीठ के बल सोने से जोखिम होता है, लेकिन इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप अपनी दाईं या बाईं ओर सोते हैं। हालांकि इन अध्ययनों में कुछ खामियां हैं। तीसरी तिमाही में गर्भावस्था का नुकसान बहुत ही असामान्य है। इसलिए, ऐसे कई मामले नहीं हैं जिनसे निष्कर्ष निकाला जा सके।

19-क्या गर्म पानी से गर्भपात हो सकता है?

-अध्ययन में पाया गया कि प्रारंभिक गर्भावस्था के दौरान हॉट टब या जकूज़ी के संपर्क में आने से गर्भपात का खतरा होता है।

20-प्रारंभिक गर्भावस्था में आपके पेट के किस हिस्से में दर्द होता है?

-पहली तिमाही (सप्ताह 0 से 12) में पेट के निचले हिस्से में हल्का दर्द होना आम बात है। ये हार्मोनल परिवर्तन और आपके बढ़ते गर्भ के कारण होते हैं।

21-क्या आप प्रारंभिक गर्भावस्था में सूखी या गीली हैं?(12 weeks pregnant)

-गर्भावस्था की शुरुआत में, आप अपने अंडरवियर में सामान्य से अधिक गीलापन महसूस कर सकती हैं। आप दिन के अंत में या रात भर अपने अंडरवियर पर अधिक मात्रा में सूखा सफेद-पीला निर्वहन भी देख सकते हैं।

22-क्या शुक्राणु गर्भवती महिला के लिए सुरक्षित है? (pregnancy spotting)

-शुक्राणु को आमतौर पर गर्भवती महिलाओं और शिशुओं के लिए सुरक्षित माना जाता है।

23-गर्भवती होने पर शुक्राणु कहाँ जाता है?(ovulation days)

-आपका शिशु एमनियोटिक द्रव द्वारा सुरक्षित एक एमनियोटिक थैली के अंदर तैर रहा है, और गर्भाशय ग्रीवा एक म्यूकस प्लग से ढका हुआ है। योनि में जमा शुक्राणु वाले वीर्य को बलगम प्लग द्वारा प्रवेश से वंचित कर दिया जाएगा और अंततः योनि के उद्घाटन के माध्यम से शरीर से बाहर आ जाएगा।

24-आपके लड़का होने के क्या संकेत हैं? (Morning sickness)

-आपने प्रारंभिक गर्भावस्था में मॉर्निंग सिकनेस का अनुभव नहीं किया था।
-आपके शिशु की हृदय गति 140 बीट प्रति मिनट से कम है।
-आप अतिरिक्त वजन को सामने ले जा रहे हैं।
-आपका पेट बास्केटबॉल जैसा दिखता है।
-आपके क्षेत्र काफ़ी काले पड़ गए हैं।

डिस्कलेमर:—हमारा उददेश्य गर्भवती महिलाओं को जरूरी अवेयरनेस उपलब्ध कराना है। आप अपने खान पान के संबंध में डाक्टरी सलाह जरूर लें। अलग अलग लोगों पर अलग अलग चीजों का प्रभाव अलग होता है। फिर भी आपको धूम्रपान और एल्कोहल लेने से बचें। यह स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है और किसी भी स्थिति में जच्चा और बच्चा के स्वास्थय के लिए अनुकूल नहीं माना जाता है। प्रेग्नेंसी के समय आप योग और मेडिटेशन को अपने डेली रूटीन का हिस्सा बना सकती हैं। इसके लिए किसी प्रशिक्षित योग प्रशिक्षक से सम्पर्क करके ही आगे बढें।

In Pregnancy Diet Chart: स्वस्थ बच्चे के लिए गर्भावस्था में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं, सुबह के नाश्ते में किस तरह का खान पान जरूरी जानिए वह सब कुछ जो आपके लिए है जरूरी

Symptoms of Pregnancy Hindi: कितने दिन में दिखने लगते हैं प्रग्नेंसी के लक्षण, पीरिएड मिस होने से पहले ही गर्भावस्था का चल सकता है पता

Pregnancy Symptoms: क्या होते हैं प्रेग्नेंसी के पहले महीने के शुरूआती लक्षण ?

बेहतर स्वास्थ्य के लिए ये Indian Superfoods खाने में शामिल करना है जरूरी

Fermented यानि खमीरयुक्त खाद्य पदार्थों के 5 स्वास्थ्य लाभ जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए

गले मिलने या आलिंगन करने के क्या हैं फायदे? जानिए