CM yogi adityanath latest news in hindi: यूपी के इस जिले में 100 प्रतिशत घरौनी वितरण, राजस्व परिषद लैण्ड रिकॉर्ड्स को डिजिटाइज़ करे

CM yogi adityanath latest news in hindi: यूपी के इस जिले में 100 प्रतिशत घरौनी वितरण, राजस्व परिषद लैण्ड रिकॉर्ड्स को डिजिटाइज़ करे

CM yogi adityanath latest news in hindi : यूपी के ग्रामीण क्षेत्र में 34 लाख परिवारों के पास उनकी जमीन का आवासीय पट्टा उनके नाम पर है। पहले गरीब के गिरे मकान को गांव के दबंग पुनः निर्माण नहीं करने देते थे। अब इस पर पूर्ण विराम लगा है। अब जमीन की पैमाइश, जरीब या फीते से नहीं, बल्कि गांव की खुली बैठक में ड्रोन के माध्यम से सर्वे किया जाता है। सहमति और असहमति की टिप्पणी भी ग्रामवासियों से ली जाती है। जालौन आज प्रदेश का पहला ऐसा जनपद हो जाएगा, जहां 100 प्रतिशत घरौनी का वितरण हो चुका होगा। लोक भवन में स्वामित्व योजना के अन्तर्गत 11 लाख ग्रामीण आवासीय अभिलेख (घरौनी) का ऑनलाइन वितरण करने के बाद सीएम योगी ने यह बात कही।

ये हैं योजना के संबंध में कुछ खास बातें (CM yogi adityanath latest news in hindi )

यूपी में अप्रैल, 2020 में ग्रामीण आवासीय अभिलेख (घरौनी) कार्यक्रम प्रारम्भ हुआ था।
ग्रामीणों को उनके मकान की जमीन का अभिलेख उनके नाम पर नामांतरण कराया जा रहा है। उसका मालिकाना हक दिया जा रहा है।
11 लाख घरौनी वितरण का कार्यक्रम प्रदेश के प्रत्येक तहसील मुख्यालय पर
प्रदेश में 23 लाख से अधिक घरौनी का वितरण हो चुका है।
अगस्त, 2022 तक पूरे प्रदेश में 01 लाख 10 हजार 300 से अधिक राजस्व ग्रामों के सर्वे का कार्य सम्पन्न किया जाएगा।
प्रदेश में देश के अन्दर सर्वाधिक ढाई करोड़ परिवारों को घरौनी वितरण का लक्ष्य रखा गया है।
राजस्व परिषद की सहायता से यह कार्य तेजी से किया जा रहा है। प्र
देश में अक्टूबर, 2023 तक ग्रामीण क्षेत्र में हर एक व्यक्ति को ग्रामीण आवासीय अभिलेख उपलब्ध कराने की कार्यवाही सम्पन्न हो चुकी होगी।
प्रदेश में अब तक 64,000 हेक्टेयर से अधिक भूमि को भू-माफियाओं के कब्जे से मुक्त कराया गया है।
अभियान चलाकर मुसहर, थारु, कोल, वनटांगिया, सहरिया आदि समुदायों को जमीन उपलब्ध कराने का कार्य किया गया है।

राजस्व परिषद लैण्ड रिकॉर्ड्स को डिजिटाइज़ करे (CM yogi adityanath latest news in hindi )

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि राजस्व परिषद प्राथमिकता के आधार पर लैण्ड रिकॉर्ड्स को डिजिटाइज़ करे। जब किसी व्यक्ति के द्वारा कोई जमीन बेची जा रही हो तो उसी समय उसका नाम खतौनी में दर्ज करने का प्राविधान करें। इससे एक व्यक्ति द्वारा एक ही जमीन कई बार बेचने पर नियंत्रण लगेगा। स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन विभाग को राजस्व विभाग के साथ मिलकर यह व्यवस्था बनानी होगी कि किसी जमीन की रजिस्ट्री करने से पहले इस बात का पता चल सके कि जो व्यक्ति रजिस्ट्री कर रहा है वह जमीन उसके नाम है या नहीं।

वरासत से जुड़ी समस्याओं का समाधान निर्धारित मैकेनिज्म पर आधारित हो (CM yogi adityanath latest news in hindi )

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि वरासत से जुड़ी समस्याओं का समाधान एक निश्चित समय-सीमा में, निर्धारित मैकेनिज्म पर आधारित होना चाहिए। वरासत के सभी लम्बित मामलों का निस्तारण अभियान चलाकर किया जाए। पैमाइश से जुड़ी समस्याओं का समाधान भी शीघ्रता से किया जाए, ताकि लोगों को सरकारी कार्यालयों के चक्कर न काटने पड़ें। यह देखा गया है कि राजस्व से जुड़ी समस्याओं का समाधान हो जाने पर अपराध में भी कमी आती है। प्रदेश में डबल इंजन की सरकार तकनीक का बेहतर उपयोग कर स्वामित्व योजना के माध्यम से लोगों को सुविधा प्रदान कर रही है।

स्वामित्व योजना से होते हैं ये लाभ (CM yogi adityanath latest news in hindi )

स्वामित्व योजना के माध्यम से ग्रामीणों के कई तरह के लाभ प्राप्त होते हैं, जैसे सम्पत्ति से सम्बन्धित विवाद का समाधान, सम्पत्तियों से सम्बन्धित प्रमाणित दस्तावेज प्राप्त होना, प्रमाणित दस्तावेजों के माध्यम से बैंकों से लोन लेने में आसानी तथा आबादी क्षेत्र का प्रारम्भिक डाटा तैयार होने से सरकारी योजनाओं को लागू करने में सुगमता होगी। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने 10 लोगों को घरौनी प्रमाण-पत्र भौतिक रूप से प्रदान किये।

CM Yogi Adityanath Latest News Todai in Hindi: भारतीय दृष्टि किसी भी नए ज्ञान को विज्ञान मान लेती है, अंग्रेजी तिथि व विक्रम संवत की पंचांग तिथि में है ये अन्तर

Loktantra Rakshak Senani Uttar Pradesh Latest News: यातनाएं सहकर अनैतिक निर्णय का विरोध किया और तानाशाही सरकार को सबक भी सिखाया