तेलंगाना में बीजेपी का शोर…नेताओं की भीड़, पीएम को रिसीव करने एअरपोर्ट नहीं पहुंचेंगे सीएम केसीआर!

तेलंगाना में बीजेपी का शोर…नेताओं की भीड़, पीएम को रिसीव करने एअरपोर्ट नहीं पहुंचेंगे सीएम केसीआर!

Modi Visit to Hyderabad in BJP Meeting : तेलंगाना में जहां भी नजर दौड़ाएं, वहां भाजपा नेताओं की भीड़ दिख रही है। हैदराबाद में भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसयी बैठक शनिवार से शुरू हो रही है। बैठक में पीएम नरेन्द्र मोदी भी शामिल होंगे। पर खबरें आ रही हैं कि सीएम केसीआर उन्हें रिसीव करने एअरपोर्ट नहीं जाएंगे। फिलहाल हैदराबाद में भाजपा के हौसले बुलंद हैं। हर तरफ पार्टी के ही झंडे दिखायी दे रहे हैं।

चूंकि बैठक में भाजपा शासित विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमित शाह, भाजपा अध्यक्ष जेपी नडडा और अन्य केंद्रीय मंत्री बड़े पैमाने पर भाग लेने जा रहे हैं, उसी लिहाज से बड़े पैमाने पर बैठक की व्यवस्था और तैयारियां की गयी हैं।

इस संबंध में समितियों की नियुक्ति पहले ही पूरी हो चुकी है। इसके अलावा, चूंकि जिलों और निर्वाचन क्षेत्रों की जिम्मेदारी तेलंगाना में राष्ट्रीय स्तर के नेताओं को सौंपी गई है, इसलिए दिल्ली से आने वाले नेता सीधे उन्हें सौंपे गए जिलों में जा रहे हैं।

इस राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक की जिम्मेदारी तेलंगाना में बीजेपी के तमाम अहम नेताओं को सौंपी गई है, ऐसे में हैदराबाद को छोड़कर तेलंगाना में हर जगह बीजेपी नेताओं की चहल-पहल है.अलग-अलग राज्यों से बीजेपी के तमाम बड़े नेता हैदराबाद पहुंच रहे हैं.

वे हैदराबाद में रहने की बजाय सीधे अपने आवंटित जिलों में जा रहे हैं। जिलों में उनका भव्य स्वागत करने के लिए उन जिलों के भाजपा नेताओं में होड़ मची है।

भाजपा बाइक रैली और कार रैलियों का आयोजन कर अपनी ताकत दिखा रही है। भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठकों की जिम्मेदारी लेने वाले सभी जिलेवार नेता अपना दम दिखा रहे हैं, जो आम लोगों के साथ पार्टी के नेताओं को भी प्रभावित करे। भाजपा नेता सामूहिक तौर पर लामबंदी पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। उन्होंने प्रधान जनसभा को सफल बनाने के लिए अभी से अपनी रणनीति पर अमल करना शुरू कर दिया है।

वे गांवों, मंडलों और निर्वाचन क्षेत्रों की स्थिति का आंकलन कर रहे हैं और समय-समय पर नेताओं को उचित सुझाव दे रहे हैं। जैसा कि टीआरएस विधानसभा में भाजपा को टक्कर देने के लिए तमाम प्रयास कर रही है। भाजपा नेता उनकी रणनीति को पटकनी देने की कोशिश करते नजर आ रहे हैं।

Jagannath Rath Yatra 2022 LIVE update: हथिनी हुई आपे से बाहर, श्रद्धालुओं पर गिरा रथ का शिखा