Astro Tips For Thursday: गुरुवार को करें ये चमत्कारी काम, श्री हरि की कृपा से पूरे होंगे सारे काम

Astro Tips For Thursday: गुरुवार को करें ये चमत्कारी काम, श्री हरि की कृपा से पूरे होंगे सारे काम

Astro Tips For Thursday, Lord Vishnu Mantra: गुरु देव बृहस्पति और श्री हरि यानि भगवान विष्णु की आराधना के लिए गुरुवार का दिन उत्तम माना जाता है। मान्यताओं के मुताबिक इस दिन भगवान विष्णु के कुछ मंत्र जाप कर आराधना करने से श्री हरि की कृपा होती है। व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

गुरुवार का दिन श्री हरि को समर्पित

सनातन धर्म में हर दिन किसी न किसी देवी-देवता की आराधना के लिए समर्पित है। गुरुवार का दिन श्री हरि को समर्पित है। गुरुवार के दिन विधि-विधान से भगवाना विष्णु की पूजा करने और आराधना करने से उनकी कृपा प्राप्त होती है। श्री ​हरि विष्णु को जगत का पालनहार भी कहा जाता है। गुरुवार के दिन भगवान विष्णु के कुछ मंत्रों का जाप करने से कई समस्याएं दूर होती हैं।

कुंडली में गुरु दोष होने पर,गुरुवार के दिन भगवान विष्णु की उपासना

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक कुंडली में गुरु दोष होने पर, व्यक्ति को गुरुवार के दिन भगवान विष्णु की उपासना करनी चाहिए। शास्त्रों के मुताबिक इस दिन व्रत रहने से जीवन की सभी समस्याएं दूर होती हैं। धन की समस्याएं दूर होती हैं। मान्यता यह भी है कि इस दिन यदि श्री हरि की पूजा के साथ मां लक्ष्मी की भी पूजा की जाए, तो दोनों की कृपा होती है और व्यक्ति की धन संबंधी परेशानियां समाप्त होती हैं।

भगवान श्री हरि विष्णु के चमत्कारी मंत्र जाप

1. ॐ नमो भगवते वासुदेवाय

2. श्रीकृष्ण गोविन्द हरे मुरारे।
हे नाथ नारायण वासुदेवाय।।

3. ॐ नारायणाय विद्महे। वासुदेवाय धीमहि। तन्नो विष्णु प्रचोदयात्।।

4. ॐ विष्णवे नम:

5. ॐ हूं विष्णवे नम:

6. ॐ नमो नारायण। श्री मन नारायण नारायण हरि हरि।

7. लक्ष्मी विनायक मंत्र –

दन्ताभये चक्र दरो दधानं,
कराग्रगस्वर्णघटं त्रिनेत्रम्।
धृताब्जया लिंगितमब्धिपुत्रया
लक्ष्मी गणेशं कनकाभमीडे।।

8. धन-वैभव एवं संपन्नता का मंत्र –
ॐ भूरिदा भूरि देहिनो, मा दभ्रं भूर्या भर। भूरि घेदिन्द्र दित्ससि।
ॐ भूरिदा त्यसि श्रुत: पुरूत्रा शूर वृत्रहन्। आ नो भजस्व राधसि।

9. सरल मंत्र –
– ॐ अं वासुदेवाय नम:
– ॐ आं संकर्षणाय नम:
– ॐ अं प्रद्युम्नाय नम:
– ॐ अ: अनिरुद्धाय नम:
– ॐ नारायणाय नम:

10. विष्णु के पंचरूप मंत्र –
ॐ ह्रीं कार्तविर्यार्जुनो नाम राजा बाहु सहस्त्रवान। यस्य स्मरेण मात्रेण ह्रतं नष्‍टं च लभ्यते।।

ज्योतिष शास्त्र में कहा गया है कि (श्री ​हरि और मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए) इनमें से किसी भी मंत्र का नियमित जाप करने से व्यक्ति के जीवन की सभी समस्याएं और संकट दूर होते हैं। धन—वैभव की प्राप्ति होती है। पर मंत्र का जाप करते समय ध्यान रखना चाहिए कि मंत्रों का उच्चारण साफ व शुद्ध हो। अन्यथा मंत्र जाप का पूरा फल नहीं मिलता है।

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं पर आधारित है. mediavarta.com इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

Thursday Astro Tips: गुरुवार का दिन है बेहद खास पर गलती से भी न करें ये काम

How prayer gives results: इस तरह से की गयी प्रार्थना का मिलता है फल, परमात्मा का होता है एहसास

2018 में भी ग्रहण से पहले आया था भूकंप, जानिए Eclipse and Earthquak के बीच क्या है कनेक्शन?

Eclipse and Earthquake: चंद्र ग्रहण के बाद भूकंप, क्या है दोनों का कनेक्शन

HOROSCOPE Today RASHIFAL 10 NOVEMBER 2022 in Hindi: मेष से लेकर मीन तक जानें राशियों का आज का राशिफल