लॉकडाउन : लखनऊ में पुलिस सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद

Ajay Verma

लखनऊ में कोरोना वायरस के बढ़ते मरीज शासन प्रशासन के लिए चिंता का विषय बनते जा रहे हैं। प्रधानमंत्री द्वारा लाकडाउन के लिए किए गए जनता से निवेदन और मुख्यमंत्री द्वारा उत्तर प्रदेश की स्थितियों पर रखी जा रही पहली नजर अधिकारियों को बराबर दिए जा रहे निर्देश प्रदेश की जनता भूखी ना रहे उनके राशन पानी की व्यवस्था, प्रदेश के हर खबरों पर हर पहलू से नजर रखना मुख्यमंत्री होने का पूरी तरह कर्तव्यों को निभाना यह कहना अतिशयोक्ति नहीं होगा की मुख्यमंत्री योगी जी ने एक योग्य मुख्यमंत्री की भूमिका निभाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है।

लोक डाउन का अगर लोगों ने अब भी पालन नहीं किया तो आने वाले कल में स्थिति बहुत भयावह होगी जिसकी कल्पना करते ही मन कांप उठता है। ऐसा लगता है की प्रदेश की जनता लोक डाउन का पूरी तरह अनुपालन नहीं कर पा रही है जिसके कारण दिन प्रतिदिन वायरस से लोग संक्रमित होते जा रहे हैं।

कुछ जगहों पर सर्वे के दौरान देखा चौक चौराहा मेडिकल चौराहे पर पूरी तरह सन्नाटा दिखा पुलिस आने जाने वालों पर पैनी नजर रख रही थी सुभाष मार्ग पर राशन लेने वालों की भीड़ दिखी पर सोशल डिसटेसिंग के साथ।

रकाबगंज चौराहे पर पुलिस राशन ले जा रहे हैं रिक्शा चालक तथा वाहनों को आने जाने दे रही थी पांडे गंज गल्ला मंडी में काफी भीड़ नजर आई लोग वहां से राशन खरीद कर अपनी-अपनी गाड़ियों में रख रहे थे वाहनों के कारण जाम की स्थिति देखने को मिली । बाद में पता चला कि कोरोना वायरस से ग्रसित पॉजिटिव मरीज, जो कि सदर का एक व्यापारी था पांडे गंज में 4 व्यापारियों के संपर्क में आया जिसके कारण शाम को पांडे गंज गल्ला मंडी को पूरी तरह बंद कर दिया गया जिस की कुछ तस्वीरें।

कैसरबाग चौराहे पर पूरी तरह पुलिस ने सुरक्षा चाक-चौबंद कर रखी है नसीराबाद रोड और लाटूश रोड दोनों को सैनिटाइजर भी किया गया और सुबह सिटी मजिस्ट्रेट द्वारा पहुंचकर राशन वितरण प्रणाली का भी निरीक्षण किया गया कुछ तस्वीरें साथ में।