लखनऊ: वकील शिशिर त्रिपाठी की पीट-पीटकर हत्या, एक आरोपी गिरफ्तार

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में वकील शिशिर त्रिपाठी की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। शिशिर त्रिपाठी की हत्या के बाद इलाके में सनसनी फैल गई। सूचना पर पुलिस और फॉरेंसिक विभाग की टीम मौके पर पहुंची गई। फॉरेंसिक विभाग की टीम ने मौका-ए-वारदात का निरीक्षण कर साक्ष्यों को अपने कब्जे में ले लिया और शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। वहीं, पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया, जबकि चार आऱोपी अभी फरार है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मामला कुष्णानगर थाना क्षेत्र के दामोदरनगर इलाके का है। यहां शिशिर त्रिपाठी (32) की मंगलवार देर रात पांच लोगों ने ईंट, पत्थर, डंडों से वार कर उसकी हत्या कर दी। वकील शिशिर त्रिपाठी की हत्या की सूचना मिलते ही पुलिस विभाग में हड़कंम मच गया। आनन-फानन में पुलिस और फॉरेंसिक विभाग की टीम मौका-ए-वारदात पर पहुंच गई। फॉरेंसिक विभाग की टीम ने घटना स्थल से साक्ष्यों को अपने कब्जे में लेकर शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया

शुरूआती जांच में पुलिस को पता चला है कि आरोपी विनायक ठाकुर और एक अन्य नामजद वकील मोनू तिवारी दोनों शिशिर त्रिपाठी के साथ मिलकर प्रॉपर्टी डीलिंग करते थे। किसी बात को लेकर शिशिर त्रिपाठी की इन लोगों से अनबन हो गई थी। मंगलवार देर रात शिशिर त्रिपाठी बाइक से घर लौट रहा था। इसी दौरान दामोदर नगर चौराहे पर विनायक और अन्य ने मिलकर उसे रोक लिया। इस दौरान शुरुआती कहासुनी के बाद मारपीट शुरू हो गई, जिसमें आरोपियों ने शिशिर की पीट-पीटकर हत्या कर दी।