महात्मा गांधी जी के 150वीं जयंती के दिन शुरू हुए विशेष सत्र खत्म

सीएम योगी बोले: “यह एक बड़ा ऐतिहासिक पल है …यह यह बड़ी अद्भुत घटना है, मैं सभी सदस्यों को साधुवाद देता हूं। मैं शिवपाल यादव, नितिन अग्रवाल, अदिति सिंह,राकेश सिंह का भी मैं धन्यवाद करता हूँ। 7 विपक्ष के सदस्यों का मैं अभिनंदन करता हूँ। दोनो सदनों की चर्चा रात्रि भर चलना ,लोकतंत्र के लिए बड़ी सुखद है। यह एक बड़ा ऐतिहासिक पल है …यह यह बड़ी अद्भुत घटना है, मैं सभी सदस्यों को सदुवाद देता हूं।

लोकतंत्र संवाद से चलता है ,संवाद शांति का प्रतीक भी होता है। लोकतंत्र की इस ताकत का अहसाह कराने के लिए इस प्रकार के सत्र का आयोजन जरूरी है। बहुत से सदस्य बोलना चाहते थे लेकिन उनको समय नही मिला , इस सत्र से विपक्ष का चेहरा बेनकाब हुआ है।
अगर इस सदन में गरीबी , इन्फ्रास्ट्रक्चर के बारे में बात नही कर सकते है तो लोकतंत्र के मायने बदल जाते है। सदन इन्ही बातों के लिए बना हुआ है। बहुत ही सकारात्मक चर्चा दोनो सदनों में हुई है।

चर्चा ने साबित कर दिया है पूरा सदन जानता है कि 2003 से लेकर 2017 तक प्रदेश में किसी भी पीड़ित को राहत नही मिलती थी। पहले राहत कार्य भी बुरी तरह से होता था। मैंने आते ही राहत आयुक्त को चीज़ों को बदलने का निर्देश दिया। राहत कार्य के लिए पैसा पहले भी जाता था लेकिन अब काम होता है। गरिबो के हक को विकृत राजनीति को पहले की सरकार डकैती डालती थी।

मैं मानता था कि गांधी जी की जयंती पर कांग्रेस जरूर आएगी , लेकिन क्या गांधी जी से कांग्रेस ने सिर्फ इतना ही सीखा है। पर अब जनता सब जान चुकी है। ये सिर्फ नज़ारा देख रहे। लोकतंत्र संवाद से चलता है। दीनदयाल जी ने कहा था कि आर्थिक प्रगति का माप सीडी के ऊपर के आदमी से नही हो सकती बलिक सीढ़ी के नीचे के आदमी से होती है।

हमे समाज को मुद्दों से अवगत कराना ही होगा , समाज का कोई तबका कमजोर है तो उसे आगे बढ़ना काम है, यह जिम्मेदारी है। जो बदहाल है उसके जीवन को आगे बढ़ने का काम करे। जिनके पास कोई साधन नही है उसे साधन युक्त करे। उसी दिशा में यह एक प्रयाश था। देश की सरकार पर ही सब कुछ नही छोड़ा नही जा सकता है , राज्यों की भी ज़िम्मेदारी है।

आज उत्तर प्रदेश सतत विकास के लक्ष्य में आगे बढ़ रहा है , और इसी क्रम में हमने सत्र की शुरुवात की थी। हमे सोचना होगा कि हमे आगामी पीढ़ी के लिए क्या करना है। भारत जैसे देश मे सतत विकास के लक्ष्यों को पाने की अभिलाषा हमेशा से रही है।

भारत सरकार द्वारा मिल रही मदद का लाभ जनता तक पहुचे इसके लिए सरकार द्वारा नए सत्र से कार्यवाही की गई । पर्यावरण के क्षेत्र में भी हमें सजग रहना होगा। प्रदेश स्तर पर सतत विकास के लिए इंडेक्स की स्थापना की जाएगी, प्रदेश के विकास के लिए समुचित दिशा निर्देश जारी करना समय-समय सरकार द्वारा लिए गए निर्णय के साथ गोल अचीव करने पर कमेटी काम करेगी।

14लाख 60 हज़ार लोगो के पास अपना घर नही है , उनके लिए आवास की व्यवस्था करना .. या लिस्ट से छूटे हुए लोगो के लिए भी व्यवस्था करने का लक्ष्य हम 2022 तक पूरा कर लेंगे। माटी कला बोर्ड , कौशल विकास जैसी योजनाओ के।साथ सरकार गोल के लिए लागतार काम कर रही है। किसान सम्मान निधि, साइल कार्ड जैसी योजनाओ से हम किसानों को आगे बढ़ा रहे है । प्रदेश के अंदर किसानों की आय दुगना कराये जाने पर सरकार युद्घ स्तर पर काम कर रही है । खाद्य की हो रही चोरी को रोकने में भी प्रदेश ने सफलता पाई है।

सीएम योगी बोले: प्रदेश के अंदर शिशु मृत्यु दर को गिराने में सरकार ने सफलता पाई है । जिन छात्रों को हम मेडिकल कॉलेज में एडमिशन दे रहे है उनसे हम बांड भी भरवा रहे है कि सभी डॉक्टर ग्रामीण क्षेत्र में भी 2 साल सेवा देगे । शिक्षा के सभी क्षेत्रों में बहुत ही समय तरीके से सभी चीजें आगे बढ़ रही हैं। प्राविधिक शिक्षा, बेसिक शिक्षा ,माध्यमिक शिक्षा सभी विभागों में बड़े स्तर पर काम हो रहे हैं। ढाई साल में 45 लाख में बच्चों का बेसिक शिक्षा विद्यालयों में एडमिशन हुआ है।  ऑपरेशन कार्यक्रम के तहत विद्यालयों का बड़े स्तर पर कायाकल्प कराया गया …उनकी व्यवस्थाएं सुधारी गई है … 91000 विद्यालयों को कायाकल्प के अंतर्गत सुधारने में हमें सफलता प्राप्त की।

प्रदेश के सभी 652 नगर निकाय ओडीएफ घोषित हुए हैं सभी नगर पंचायतें भी ओडीएफ घोषित हुए। आज जिले मुख्यालय और गांव में निर्धारित बिजली लगातार पहुंच रही है। सोलर एनर्जी के क्षेत्र में हमने नई प्रक्रिया आगे बढ़ाई है। प्रमुख सचिव ऊर्जा की अध्यक्षता में कमेटी का गठन कर सस्ती एवं प्रदूषण मुक्त ऊर्जा के लिए कार्ययोजना पर काम हो रहा है । वन डिस्टिक वन प्रोडक्ट योजना पहले से ही उत्तर प्रदेश में बड़े स्तर पर चल रही है। गंगा एक्सप्रेस , बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे पर बड़े स्तर पर काम चल रहा है । जेवर एयरपोर्ट पर भी सरकार बड़े स्तर पर काम चल रहा है।

प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी में हमारा लक्ष्य है की जो हमने लक्ष्य तय किया है उसे 2022 तक पूरा कर ले। उत्तर प्रदेश में प्लास्टिक बैन करने पर बड़े स्तर पर काम चल रहा है। लक्ष्यों को प्राप्त करने की दिशा में मुख्यमंत्री कार्यालय से भी नजर रखी जाएगी। अंतर विभागीय समन्वय के तहत इन सभी गोल को पूरा किया जा सकता है। मुझे खुशी है कि सभी सदस्यों ने इस पर सकारात्मक चर्चा की।

यह पहला विधानमंडल होगा जिसने इस तरह की सार्थक चर्चा को आगे बढ़ाया है । रात्रि के 2:00 बजे 78 सदस्य सदन में मौजूद थे । यह एक सकारात्मक संदेश है। गठित समितियों की मंत्री भी 2 महीने में समीक्षा करें तीसरे महीने में मैं खुद समीक्षा करूंगा। नवरात्रि व विजयदशमी की सभी को हार्दिक बधाई देकर मुख्यमंत्री ने अपना भाषण यहीं समाप्त कर दिया।

Source : Facebook Post Ajay Verma