पारा पुलिस और बेलगाम सरोजनीनगर वन रेंज के कर्मचारियो ने चढ़ा दी दो पेड़ो की बली 

लखनऊ। पारा थाने के हंसखेड़ा चौकी पर तैनात दरोगा जंगजीत का कारनामा। परसादीखेड़ा निवासी किसान लल्ला यादव के खेत मे लगे पीपल और नीम के पेड़ो को बलि चढाया। चार वर्ष पहले सरदार प्रीत पाल सिंह ने किसान के बगल प्लाट खरीदा था। हंसखेड़ा चौकी पर तैनात दरोगा और वन रक्षक विनोद की मिली भगत से सरदार ने  दोनो पेड़ो को जड़ से उखाड़वाया।

वृक्ष स्वामी से  चोरी से उखडवाकर दोनो पेड़ो को नष्ट किया। दरोगा जंगजीत सिंह पर वृक्ष स्वामी ने लगाया मिली भगत का आरोप। वृक्ष स्वामी के मुताबिक दरोगा ने पहले सरदार के साथ पेड़ो का निरीक्षण कर पड़ोस के दुकानदार को बुलवाकर उसे फर्जी वन कर्माचारी का खिताब देकर सरदार को पेड़ो के कटान के लिए किया था मना।

सरदार को परेशान करने के बाद दरोगा ने सरदार से आईजीआरएस डलवाने के बाद अपनी मजबूत सेटिंग बनाकर पेड़ो की चढवा दी बलि। गाँव मे क्रिया क्रम व पूजा पाठ के लिए किसान ने अपने खेत मे लगवाया था पीपल का पेड़। जिसे दरोगा ने स्वंम् खड़े होकर उखडवा दिया। शिकायत पर दरोगा जंगजीत सिंह ने किसान से गाली गलौज कर चौकी से भगाया। किसान ने सरदार के खिलाफ थाने पर चोरी से पेड़ कटवाने की दी तहरीर पर पारा पुलिस ने मुकदमा दर्ज नही किया ।