उम्मीदवार की दूसरी बीवी ने बढ़ाई मुश्किलें

उत्तर प्रदेश  के घोसी विधानसभा सीट के लिए हो रहे उपचुनाव में बसपा प्रत्याशी की मुश्किलें बढ़ गई है. दरअसल बसपा प्रत्याशी कय्यूम अंसारी की दूसरी पत्नी ने अपने पति पर शराब पीकर मारपीट का आरोप लगाया है. वहीं पत्नी का आरोप है कि नामांकन के दौरान शपथ पत्र में उनका नाम भी नहीं दिया गया.बता दें कि घोसी विधानसभा उपचुनाव में बसपा के उम्मीदवार कय्यूम अंसारी विरोधीयों को कड़ी टक्कर दे रहे है. वहीं उनकी दूसरी बीबी सईद फातिमा ने उनके ऊपर गंभीर आरोप लगाये है, जिससे उनकी मुश्किलें बढ़ गयी है.उम्मीदवार कय्यूम अंसारी ने बताया कि उनकी बीबी ने कुछ लोगों के बहकावें में आकर के उनके खिलाफ हो गयी है. उसने आरोप लगाया है कि उसका नाम नामांकन के दौरान शपथ पत्र में नही दिया गया है. इस आरोप को बसपा प्रत्याशी ने सही बताया है कि वह मेरी बीबी है.

अंसारी कहते हैं कि उन्होंने अपनी पहली बीबी की तरह सारी सुख सुविधा मुहैया कराई है. इसके बाद भी कुछ लोगों के बहकावे में वह आ कर हमारे खिलाफ खड़ी हो गयी है. जो सीधे विरोधियों की साजिश का नतीजा है. विरोधी चुनाव में जीत पक्की देख कर साजिश के तहत बीबी को हथियार बना रहे है.आपको बता दें कि बसपा प्रत्याशी की पहली बीबी घोसी नगर पंचायत की चेयरमैन है. जबकि उनकी दूसरी बीबी का नाम नामांकन के दौरान शपथ पत्र में नहीं होने से नाराज है.

घोसी सीट पर होने वाले उपचुनाव में कांग्रेस, बीजेपी और बीएसपी सहित कुल 14 प्रत्याशी चुनावी मैदान में है. जिसमें बीएसपी से कय्यूम अंसारी, कांग्रेस से राजमंगल यादव, बीजेपी से विजय राजभर, भाकपा से शेख हिसामुद्दीन, परिवर्तन समाज पार्टी से दिलीप, सुहेलदेव भासपा से नेबू लाल, पीस पार्टी से फौजेल अंसारी, बहुजन मुक्ति पार्टी से शरदचंद, बाकी निर्दलीय प्रत्याशी के रुप में सुधाकर सिंह, अंकित, जितेन्द्र, मनोज, रामभवन और सुरेन्द्र के नाम शामिल हैं.


मुजफ्फरनगर की मुस्लिम महिलाएं बनाएंगी मोदी को समर्पित मन्दिर
अलादीन के चिराग सी है मोहम्मद सईद की ये करिश्माई बाइक
कर्नाटक के पूर्व उपमुख्यमंत्री परमेश्वर के यहाँ आयकर छापे, 5 करोड नकद बरामद
अखिलेश बोले-उप्र में रामराज्य नही, नाथूरामराज्य है