फ्लो बिज किड्स प्रतियोगिता के विजेताओं की घोषणा

लखनऊ के शान और आदित्य ने बढ़ाया शहर का मान

लखनऊ, 28, दिसंबर। बच्चे देश का भविष्य होते हैं इस अवधारणा को आत्मसात करते हुए फिक्की फ्लो लखनऊ चैप्टर ने फ्लो बिज किड्स प्रतियोगिता का आयोजन किया जिसमें देशभर के लगभग 100 से अधिक बच्चों ने भाग लिया। कोरोना काल में बच्चों की रचनात्मकता विशेष रूप से देखने को मिली, उनकी रचनात्मकता और उद्यमशीलता को ध्यान में रखकर फिक्की फ्लो ने इस प्रतियोगिता का आयोजन किया था, इसमें स्कूली छात्रों से ऑनलाइन प्रविष्टियां मांगी गई थी।

यह भी पढ़ें : अजब नजारा देखा…देश बदल रहा है साहब

यह भी पढ़ें : कॉलर ट्यून से परेशान होकर छात्र ने मांगी इच्छा मृत्यु

इसमें देश भर से विशेषकर महाराष्ट्र, तेलंगाना, पश्चिम बंगाल, असम, उड़ीसा, पंजाब, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के 100 से भी अधिक छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। जिनमें लंबी स्क्रीनिंग प्रक्रिया के उपरांत जजों के पैनल ने 10 छात्र छात्राओं को फाइनल राउंड के लिए चयनित किया। जिसमें दो अलग-अलग आयु वर्ग में कुल 6 छात्रों को विजेता घोषित किया गया। 0 से 4 वर्ष तक के आयु वर्ग में आदित्य अग्रवाल, शान गर्ग और अवनीश रहे और 15 से 18 वर्ष के आयु वर्ग में आदित्य चंद्र गुप्ता, राघव साबू औरआरिया मस्करा विजई रहे। विजई सभी छह विजेताओं को प्रशस्ति पत्र और ₹10000 की नगद धनराशि के साथ ही अपने बिजनेस आइडिया को बढ़ाने के लिए इंडस्ट्री के विशेषज्ञ से निरंतर मार्गदर्शन मिलता रहेगा।

यह भी पढ़ें : विकास प्राधिकरणों की कार्यप्रणाली में सुधार जरूरी: मुख्यमंत्री

यह भी पढ़ें : बार गर्ल पर उड़ाए तीन करोड़ रुपये

विजेताओं का चयन फाइनल राउंड में फेसबुक पर लाइव हुआ जिसमें अंतिम 10 चयनित छात्रों को अपने बिजनेस आइडिया बताने का मौका दिया गया जजों ने उनसे सवाल-जवाब भी किए इसके उपरांत अंतिम छह विजेताओं की घोषणा की गई। निर्णायक मंडल में 3 सदस्यों की समिति गठित की गई थी जिसमें श्री रामस्वरूप की संयुक्त उपाध्यक्ष वासवी भरतराम, ओलिव ग्रुप के मास्टर शेफ मनोज चंद्रा और कीवेंचर्स के संस्थापक निदेशक अमन अरोड़ा शामिल थे।

यह भी पढ़ें : मेडिकल छात्रों को 10 साल तक राज्य के अस्पतालों में देनी होगी सेवा

यह भी पढ़ें : स्वाद की नई पहचान ‘होम स्वीट होम’

फिक्की फ्लो लखनऊ चैप्टर की अध्यक्षा पूजा गर्ग ने इस अवसर पर कहा कि इस प्रतियोगिता के माध्यम से हम भविष्य के उद्यमी और विशेषज्ञ तैयार करना चाह रहे हैं। यह फ्यूचर प्रोफेसनल के लिए लॉन्चिंग प्लेटफार्म जैसा है। फिक्की फ्लो महिलाओं के उत्थान के लिए निरंतर कार्य कर रहा है।

यह भी पढ़ें : पहली सफल महिला हास्य कलाकार ‘टुनटुन’

यह भी पढ़ें : 40 दिन मेडिटेशन और वास्तु दोष का निवारण : डॉ जय मदान

लखनऊ का मान 2 छात्र शान गर्ग और आदित्य अग्रवाल ने बढ़ाया शान गर्ग सेंट फ्रांसिस कॉलेज में कक्षा 6 के छात्र हैं और राष्ट्रीय स्तर के शतरंज के खिलाड़ी भी हैं शान ने 4 वर्ष की उम्र में ही शतरंज खेलना शुरू किया और करोना काल में शान ने चेस एनालाइजर ऐप बनाने का फैसला किया जोकि प्रोफेशनल ट्रेनिंग के लिए काम करेगा इसके लिए उन्होंने एक डमी वेबसाइट भी तैयार की है । चेस क्लब ब्लैक एंड व्हाइट के प्रशिक्षक शिल्पा मेहरा जुनैद अहमद और नवीन कार्तिकेय शाम के मेंटर हैं।

यह भी पढ़ें : पत्रकार के घर में आग लगाकर दबंगों ने फैलाई दहशत पत्रकार सहित दो लोगों की मौत

वहीं दूसरे आदित्य अग्रवाल डीपीएस में कक्षा 3 के छात्र हैं उनकी बड़ी बहन अनन्या बीटेक सेकंड ईयर की छात्रा हैं कोरोना काल के दौरान उन्होंने अपने भाई को कोडिंग सिखाई फिर दोनों ने मिलकर अपना यूट्यूब चैनल खोला आदित्य कोडिंग संबंधित वीडियो बनाते हैं और उसे अपने यूट्यूब चैनल पर अपलोड करते हैं जोकि धीरे-धीरे बहुत ही लोकप्रिय हो रहा है।

Show More

Related Articles