लखनऊ में गोमती के किनारे से 64,000 पेड़ हटाने की तैयारी

लखनऊ। प्रदूषण की मार झेल रहे राजधानी लखनऊ में अगले साल फरवरी में होने वाले डिफेंस एक्सपो के लिए गोमती नदी के किनारे से 64,000 पेड़ हटाने की तैयारी की जा रही है। शासन ने डिफेंस एक्सपो के लिए 63,799 पेड़ हटाने को कहा है. डिफेंस एक्सपो के दौरान सैन्य उपकरणों के प्रदर्शन और अन्य सुविधाओं के लिए पेड़ हटाने की ये तैयारी की जा रही है। सूत्रों के मुताबिक हनुमान सेतु से लेकर निशातगंज तक गोमती किनारे लगे पेड़ हटाने का प्रस्ताव भेजा गया है। डिफेंस एक्सपो खत्म होने के बाद गोमती किनारों पर नए पेड़ लगेंगे।

LDA ने पेड़ के बदले मांगे 59 लाख रुपए

लिहाजा, लखनऊ डेवलपमेंट अथॉरिटी ने दोबारा पेड़ लगाने के लिए नगर निगम से 59 लाख रुपए की मांग की है. एलडीए का कहना है कि गोमती के किनारे इन पेड़ों को लगाने के लिए 59,06,827 रुपए खर्च किए गए थे।

पहली बार लखनऊ में हो रहा आयोजन

बता दें कि यह पहला मौका होगा जब लखनऊ ‘द डेफएक्सपो‘ की मेजबानी करेगा। इसमें बड़ी संख्या में अग्रणी देशों के प्रतिनिधि भी शामिल होंगे। अधिकारी ने बताया कि बड़ी विदेशी और स्वदेशी कंपनियां इस प्रदर्शनी में अपने अत्याधुनिक हथियारों का प्रदर्शन करेंगी। इनकी नजर विश्व के सबसे बड़े हथियार आयातक देश के लाभदायक सैन्य बाजार पर होगी।

5 से 8 फरवरी के बीच आयोजित होगा Defence Expo

लखनऊ में अगले साल पांच से आठ फरवरी के बीच आयोजित होने वाले 11वें डिफेंस एक्सपो इंडिया-2020 का थीम ‘भारत  उभरता हुआ रक्षा विनिर्माण केंद्र’ रखा गया है। डिफेंस सेक्टर में तेजी से उभरते उत्तर प्रदेश में आयोजित होने जा रहे इस मेले में दुनियाभर के अत्याधुनिक हथियारों की प्रदर्शनी लगाई जाएगी।

Show More

Related Articles