खुद को पुलिसकर्मी बता कर रहे थे वसूली

आपरेशन 420 मे 5  जालसाज़ गिरफ्तार पुलिस कर्मी बता कर वसूली कर रहे थे
 एसएसपी कलानिधि नैथानी द्वारा अपराधधियो की धर पकड़ कामयाबी हासिल” alt=”” aria-hidden=”true” />

एसएसपी कलानिधि नैथानी द्वारा अपराधधियो की धर पकड़ के लिए चलाए जा रहे आपरेशन मिड नाईट और आपरेशन 420 मे 5 ऐसे जालसाज़ फस गए जो पुलिस लिखी हुई बोलेरो पर वार होकर ग्रामीण क्षेत्र मे ट्रक चालको से वसूली कर रहे थे। इटौजा पुलिस ने बीती रात एक ट्रक चालक की सूचना पर पाच ऐसे लोगो को पकड़ा है जो लाल नीली बत्ती और सायरन लगी बोलेरो पर सवार होकर अपने आपको पुलिस कर्मी बता कर वसूली कर रहे थे। एक ट्रक चालक को डरा धमका कर पाॅच सौ रूपए की वूसली करने वाले 5 नकली पुलिस कर्मियो को इटौंजा पुलिस ने कुर्सी रोड से गिरफ्तार किया। पुलिस ने इन पाॅच फर्ज़ी पुलिस कर्मियो को गिरफ्तार कर ये जाॅच शुरू कर दी है कि कही इन लोगो का सम्बन्ध उन लोगो से तो नही है जो अक्सर पुलिस कर्मी बन कर महिलाओ से टप्पेबाज़ी की घटनाओ को अन्जाम देते है। सीओ बीकेटी का कहना है है कि पूरे मामले की जाॅच की जा रही है। पुलिस के अनुसार शेर नगर मुज़फ्फर नगर के निवासी ट्रक चालक मोहम्मद सलीम की सूचना पर उन्हे डरा धमका कर उनसे पाॅच सौ रूपए की वसूली करने वाले पाॅच नकली पुलिस कर्मी घुघटेर बाराबंकी के रहने वाले राहुल उर्फ रवि कुमार घंुघटेर बाराबंकी के मनोज यादव विश्राम पुरवा इटौंजा के रहने वाले नरेन्द्र यादव विश्राम पुरवा इटौंजा के रहने वाले राकेश यादव और ही के रहने वाले शुभम यादव को गिरफ्तार कर इनके कब्ज़े से सफेद रंग की बोलेरो गाड़ी और इनके द्वारा दो ट्रक ड्राईवरो से वसूले गए 550 रूपए बरामद किए गए है। सीओ बीकेटी ने बताया कि गिरफ्तार किए गए नकली पुलिस कर्मियो के पास से बरामद बोलेरो गाड़ी सआदतगंज के रहने वाली सविता श्रीवास्तव के नाम पर रजिस्टर है उन्होने बताया कि अभी तक की पूछताछ मे गिरफ्तार किए गए नकली पुलिस कर्मियो द्वारा इससे पहले इस तरह की घटना कारित किए जाने की कोई जानकारी नही मिली है। इन्स्पेक्टर इटौजा नन्द किशोर ने बताया कि पता चला है कि नकली पुलिस कर्मियो के पास से बरामद बोलरो गाड़ी दो दिन पहले ही प्रदेश के किसी मंत्री महोदय की सुरक्षा के लिए लगाई जाने के लिए ली गई थी इस बोलेरो का चालक राहुल उर्फ रवि कुमार है । पुलिस के अनुसार बीती रात ट्रक चालक मोहम्मद सलीम अपना ट्रक लेकर जा रहे थे तभी कुर्सी रोड़ पर गलत दिशा से आए लाल नीली बत्ती लगी बोलेरो सवार पाॅच लोगो ने उनके ट्रक के आगे गाड़ी लगा कर रोक लिया । एक व्यक्ति द्वारा उन्हे बताया गया कि गाड़ी मे साहब बैठे है उन्हे कागज दिखाओ जिस पर सलीम ने ट्रक मे लदे माल की बिलटी दिखाई। ट्रक चालक सलीम के अनुसार बोलरे मे सवार लोग वर्दी मे नही थे लेकिन पुलिस लिखी हुई गाड़ी मे सवार होने की वजह से उनका रौब पुलिस वाला ही था । सलीम के अनुसार उन लोगो ने उनसे गाड़ी के कागज़ात और पाच सौ रूपए जबरन ले लिए और चले गए। कुछ देर बाद वो कुछ आगे छोटू ढाबे पर जाकर रूका तो वहंा दूसरा ट्रक चालक आया उसने भी उसे बताया कि पुलिस की बुलेरो पर सवार पाच लोगो ने उसे डरा कर 50 रूपए ले लिए। ट्रक चालक सलीम ने पुलिस को सूचना दी तो पुलिस ने मामले को गम्भीरता से लिया और मुकदमा दर्ज कर वसूली करने वालो की तलाश शुरू कर दी । कुछ देर मे ही पुलिस को सफलता मिल गई और पुलिस का नाम बदनाम करने वाले पाॅच लोगो को पुलिस ने गिरफ्तार करने मे कामयाबी हासिल कर ली। वैसे भी एसएसपी कलानिधि नैथानी जालसाज़ो की गिरफ्तारी के लिए आपरेशन 420 तेज़ी तो चला ही रहे है इसके अलावा उनके द्वारा पूरे ज़िले मे आपरेशन मिड नाईट भी चलाया जा रहा है। हालाकि एसएसपी कलानिधि नैथानी अपराध की घटनाओ की रोकथाम और अपराधियो की धरपकड़ के अभियान मे कोई कोर कसर नही छोड़ रहे है बावजूद इसके आपराधिक प्रवत्ति के लोग शायद सुधरना नही चाहते है । एसएसपी के सख्त तेवरो को देख कर ये अन्दाज़ा लगाया जा रहा है कि अब अपराधी बच नही 

Show More

Related Articles