मिडिया जगत में होता है कैमरेमैन का खास रोल

उत्तर प्रदेश की विधानसभा के सेंट्रल हाल में कैमरे की कतारें बता रही हैं, खबरों की इस दुनिया मे रिपोर्टर और एंकर के अलावा सबसे ज़्यादा महत्वपुर्ण और चुनौतीपूर्ण काम कैमरेमैन का होता हैगांधी जयंती के 150 वर्ष होने पर, 36 घंटे चलने वाले विधानसभा के विशेष सत्र पर विधायकों, मंत्रियों, सुरक्षा कर्मियों को 12 12 घंटे के अंतराल पर विश्राम, जल पान, खान पान की सुविधा उपलब्ध थी लेकिन कैमरामैन तो अपनी ज़िम्मेदारी से बंधा है, पल पल की खबरों का सजीव प्रसारण कैमरामैन की वजह से ही संभव हो पा रहा है, अपनी सूझ बूझ, अपने रिपोर्टर से ताल मेल बनाकर, खबरों को आकर्षित करने वाले visual को शूट करके आपके tv screen पर यही कैमरामैन दिखा रहा है।

36 घंटे के इस सत्र में कुछ कैमरामैन ने रिपोर्टर का भी काम बखूबी अंजाम दिया है । 36 घंटे के इस विशेष सत्र को आम जनता तक पहुँचाने वाले ऐसे कैमरामैनों को सम्मानित करने का एक प्रयास ज़रूर किया जाना चाहिए ।। इस तस्वीर को भी खूबसूरती से कैमरे में कैद करने वाले कैमरामैन Arif Muqeem भाई का बहुत बहुत शुक्रिया ।

Show More

Related Articles